The Interim Budget Has A Better Picture Of The Market

http://business.bhaskar.com/article/BIZ-ART-the-interim-budget-has-a-better-picture-of-the-market-4525801-NOR.html

चुनिंदा सेक्टरों की सेलेक्टेड कंपनियों के शेयरों को खरीदने की रणनीति बनाएं निवेशक

चुनावी वर्ष होने के कारण इस बार अंतरिम बजट में भले ही अनेक लोक-लुभावन घोषणाएं की गई हों, लेकिन निवेशकों के लिए इस समय चुनिंदा सेक्टर के चुनिंदा शेयरों में लिवाली के अच्छे मौके हैं। ब्रोकरेज फर्मों का मानना है कि आगे चलकर शेयरों का वैल्यूएशन महंगा हो सकता है, इसलिए इस समय निवेशक लिवाली की रणनीति अपना सकते हैं। अंतरिम बजट के बाद मंगलवार को सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही बढ़त के साथ बंद हुए।

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के चेयरमैन मोतीलाल ओसवाल कहते हैं कि निवेशकों को इस समय लिवाली की रणनीति शेयर बाजार में अपनानी चाहिए और लंबी अवधि के नजरिए से आईटी, फार्मा व ऑटो शेयरों में निवेश करना चाहिए। इन सेक्टरों के चुनिंदा स्टॉक्स में हीरो होंडा, एचडीएफसी, टेक महिंद्रा और भारतीय स्टेट बैंक के शेयर खरीदे जा सकते हैं।

 

for more news at www.bhaskar.com

Advertisements

Tata Motors MD Karl Slym Wife Wrote Suicide Note, Latest News

http://business.bhaskar.com/article/BIZ-ART-tata-motors-md-karl-slym-wife-wrote-suicide-note-latest-news-4505213-PHO.html

टाटा मोटर्स के एमडी कार्ल स्लिम की मौत घरेलू झगड़े के चलते हुई? बैंकॉक पुलिस इस एंगल से मामले की जांच कर रही है। पुलिस की मानें तो इस केस से जुड़े अनुसंधानकर्ताओं को जो सुसाइड नोट मिले हैं उसमें घरेलू समस्याओं से परेशान होने का उल्लेख किया गया है। यह नोट स्लिम की पत्‍नी के नाम है। स्लिम की पत्नी सैली ने थाईलैंड पुलिस को दिए बयान में कहा कि अपने पति को लंबी-चौड़ी भावनात्मक चिठ्ठी लिखकर वो वहीं बगल में सो गईं थीं। सो के उठने तक उनके पति की मौत हो चुकी थी। उनकी लाश होटल के चौथे मंजिल पर मिली। 

स्लिम की पत्नी का कहना है कि घटना से पहले करीब 5 घंटे तक उनकी उनके पति से तीखी बहस हुई थी। बहस के चलते शैली ने स्लिम से बात करने से भी मना कर दिया था। इन सबको लेकर उन्होंने ही तीन पेज का एक भावनात्मक लेटर अपने पति को लिखा था, जिसमें पारिवारिक और निजी समस्या को प्वांइट आउट किया गया था। 

Chidambaram Favor Of Continuing The Ban On Gold Import

Image

चालू खाता घाटा (सीएडी) के घटकर 50 अरब डॉलर के स्तर के निकट आने की संभावना के बाद भी वित्त मंत्री पी. चिदंबरम सोना आयात पर लगाए गए प्रतिबंधों को जारी रखने के पक्ष में हैं। एक टीवी चैनल से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि सोना आयात पर कुछ सख्ती जरूरी है। हमें अपने देश में सोने की नई खोज का भी प्रयास करना चाहिए।’

सुप्रीम कोर्ट की ओर से सभी बंद खदानों की नीलामी के निर्देश पर उन्होंने कहा कि खनन मंत्रालय को इन कथित बंद खदानों को बेचना चाहिए क्योंकि दुनिया में ऐसे कई लोग हैं जो कि मुझसे मिले हैं और उनका कहना है कि उन्हें खान सौंपी जाए और वे हम इनसे सोना निकालेंगे।